Homeअन्यवायरस-बैक्टीरिया से बचाएगी नीम, इसके चमत्कारी फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान

वायरस-बैक्टीरिया से बचाएगी नीम, इसके चमत्कारी फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान

नीम, जिसे चमत्कारिक जड़ी बूटी के रूप में भी जाना जाता है। इसका हर हिस्सा औषधीय उपचार में काम आता है। नीम रक्त को साफ करता है और शरीर से किसी भी जहरीले तत्व को बाहर निकालने में मदद करता है। नीम में फंगस, वायरस और बैक्टीरिया से लडऩे की क्षमता होती है। यह अपने एंटीकैंसर गुणों के लिए जाना जाता है। यह मात्र एक ऐसा पेड़ा है जिसके हर हिस्से का इस्तेमाल औषधि बनाने के लिए किया जाता है। इसकी छाल, पत्ते और बीज के चमत्कारिक फायदे आयुर्वेद में बताए गए हैं।

पाचन संबंधी हर समस्या को खत्म करती है नीम

कई बार, जड़, फूल और फल का भी उपयोग किया जाता है। नीम के पत्तों का उपयोग कुष्ठ रोग के लिए किया जाता है। इसके इस्तेमाल से नेत्र विकार, नकसीर, आंतों के कीड़े, पेट की खऱाबी, भूख न लगना, त्वचा के अल्सर, हृदय और रक्त वाहिकाओं के रोगों (हृदय रोग), बुखार, मधुमेह, मसूड़ों की बीमारी (मसूड़े की सूजन) और जिगर के रोग ठीक हो जाते हैं। इसके अलावा नीम की छाल का इस्तेमाल मलेरिया, पेट और आंतों के अल्सर, त्वचा रोग, दर्द और बुखार को ठीक करने में किया जाता है। नीम में ऐसे रसायन की खान हैं जो रक्त शर्करा के स्तर को कम करने, पाचन तंत्र में अल्सर को ठीक करने, बैक्टीरिया को मारने और मुंह में प्लाक के निर्माण को रोकने में मदद कर सकते हैं।

पायरिया संबंधी समस्या होती है खत्म

एक शोध बताता है कि नीमके पत्तों का अर्क दांतों और मसूड़ों पर 6 सप्ताह तक रोजाना लगाने से प्लाक यानी दांतों पर मैल जमना कम हो सकता है। यह मुंह में बैक्टीरिया की संख्या को भी कम कर सकता है जो दांतों की मैल यानी डेंटल प्लाक का कारण बनता है। यदि अर्क नहीं मिलता है तो आप नीम के पत्तों को ही अच्छी तरह से धोकर सुबह-सुबह चबा सकते हैं। हालांकि 2 सप्ताह तक नीम के अर्क से कुल्ला करने पर प्लाक या मसूड़े की सूजन को कम करने के कोई प्रमाण नहीं मिलते हैं। अगर आप आप नीम की पत्तियों का सेवन नहीं करना चाहते हैं, तो इसकी चटनी बना सकते हैं। नीम की चटनी को रोज सुबह खाने से आप तमाम तरह के वायरस और बैक्टीरिया से बच सकते हैं।

सामग्री – नीम- 20 पत्ते , गुड़ – 4 चम्मच, कोकम – 6-7, जीरा – एक बड़ा चम्मच, नमक- स्वादानुसार

चटनी बनाने की विधि – नीमके पत्तों को अच्छी तहर धो लें। फिर सारी चीजों को मिलाकर पीस लें। रोजाना खाली पेट आधा चम्मच खाएं और पानी पीएं। कुछ दिनों में इसका असर साफ दिखने लगेगा।

रोजाना बासी मुंह नीम की चार पत्तियां खाने से भी जगह के फायदे मिलते हैं। इसके खाने से खून साफ होता है, पेट में किसी तरह बीमारी की संभावना काफी कम हो जाती है। कील, मुंहासे नहीं निकलते हैं और त्वचा चमकदार होती है।

यह भी पढ़ें :- आम बिगाड़ सकता हैं चेहरा, वजह जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

RELATED ARTICLES
Continue to the category

Most Popular