Homeदेशखबरदार : कोरोना से बचने के लिए ज्यादा काढा पीना हो सकता...

खबरदार : कोरोना से बचने के लिए ज्यादा काढा पीना हो सकता है खतरनाक

नई दिल्ली। कोरोना से बचने के लिए ज्यादा काढ़ा पीना भी नुकसानदेह साबित हो रहा है। इससे किडनी और लीवर की बीमारियों से लोग ग्रसित हो रहे हैं। कोरोना काल में ज्यादा काढ़ा पीने के दुष्परिणाम खासकर उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, उत्तराखंड सहित कई राज्यों में अब देखने को मिल रहे हैं जहां भी किडनी, लीवर और यूरिन की समस्याओं से पीड़ित मरीजों की अचानक संख्या बढ़ गयी है। डॉक्टरों के मुताबिक अधिक मात्रा में काढ़ा पीने से नाक से खून आना, खट्टी डकार आना और यूरिन में परेशानी जैसी दिक्कतें भी हो सकती हैं। खासकर यूरिन में संक्रमण आने से किडनी की भी संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है। इसी को ध्यान में रखकर अब डॉक्टरों ने कोरोना से बचने के लिए ज्यादा काढ़ा पीने वालों के लिए सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें – फिर जाग रहा कोरोना : देश में एक बार फिर संक्रमण की रफ्तार हुई तेज, पिछले 24 घंटों में 35 हजार 662 नए केस

उल्लेखनीय कि कोरोना के कहर और उसके खौफ को देखते हुए में काढ़ा का सेवन ज्यादा हो रहा है। तकरीबन हर घर में लोग काढ़ा पी रहे हैं। आयुर्वेद में काढ़ा पीना सेहत के लिए फायदेमंद होता है, लेकिन ज्यादा मात्रा में पीने से शरीर के लिए यह नुकसानदेह साबित हो रहा है।डॉक्टरों के मुताबिक, बेवजह इम्युनिटी बूस्टर का सेवन करने से शरीर में बदन दर्द और बैचेनी की शिकायत वाले मरीजों की संख्या बढ़ गई है। जानकारों का कहना है कि, काढ़े की तासीर गर्म होती है और इसे बहुत ज्यादा पीने की वजह से मुंह और पेट में छाले की समस्या शुरू हो सकती है। काढ़े में दालचीनी, गिलोय, काली मिर्च जैसी चीजों के ओवरडोज की वजह से पेट में दर्द, सीने में जलन या एसिडिटी जैसी दिक्कतें शुरू हो जाती हैं।

RELATED ARTICLES
Continue to the category

Most Popular